खबरें

फागुन के फाग -रमा प्रवीर वर्मा

मौसम नें जादू किया, बरसे नेह अनन्त । धरती इठलाती फिरे, आया राज बसन्त ।। .. गीत बसन्ती गा रहे, जोगी हो या सन्त । कलियों पर यौवन चढ़ा, बौराया है कन्त ।। .. भीनी […] Read More

होली के रंग -भुवन विष्‍ट

होली के रंग अबीर से, आओ बांटें मन का प्यार, खुशहाली आये जग में, है आया रंगों का त्यौहार, रंग भरी पिचकारी से अब, धोयें राग द्वेष का मैल, ऊंच नीच की हो न भावना, […] Read More

माँ मेरा स्कूल -अनीता मिश्रा'”सिद्धि”‘

“उठ बेटा जल्दी से, स्कूल जाना है”। हीरा ने भोलू को उठाते हुए कहा।तुझे तैयार कर स्कूल छोड़ दूँगी, तभी तो काम पर जाऊँगी मैं ।हीरा एक छोटे से गाँव में रहती थी,और वही के […] Read More

आ गया फाग – मुकेश

आ गया फाग | छिड़ गया राग || गोरी की बदली चाल | जब हुए गाल लाल || उढ़ गयी चदरिया | बेरिन बीच बजरिया || जो गिर गया गुलाल | अंग-अंग हुआ बेहाल || […] Read More

होली में ससुराल-मधु शंखधर

अभी -अभी तो ब्याह हुआ है, नूतन नवल किशोरी से। बचपन की तन्द्रा टूटी थी, नटखट गाँव की गोरी से। खुशियाँ ही खुशियाँ छाईं थीं, पत्नी का सुख पाने से। ऋतु बसंती भी छाई थी, […] Read More

सिसक रहे आज होली के रंग-आशा जाकड़

सिसक रहे हैं आज होली के रंग। महंगाई ने कर दिया रंग – बदरंग ।। लाल रंग अब लहू बनके बह रहा, पीला रंग कायर बन मुंह छुपा रहा । हरी- भरी धरती अब कहाँ […] Read More

होली के हाइकु-आशा जाकड़

होली के रंग लाये नयी उमंग खुशी के संग रंगों की होली अक्षत अरु रोली मस्ती की टोली गुलाबी, पीला जीवन हो रंगीला हो.चमकीला आओ झूम लें रंगों के पर्व में खुशी ढूंढ लें गेहूँ […] Read More

होली के रंग बसंत के संग

मचालो धूम मिलकर के, चलो  इस बार होली में नहीं  बाकी  रहे  कोई,  कसर दिलदार होली में रँगों के साथ धुल जाये, जमा हर मैल नफरत का घृणा जल राख हो जाये,  बचे  बस प्यार […] Read More

आ जा पी ले भंग भायला- विश्वम्भर पाण्डेय ‘व्यग्र’

आ जा पी ले भंग भायला होड़ी  खैल्यां संग भायला एक के दो दो दीखे मोकूं कैसी  दे  दई  भंग भायला तन मन दोनूं रंग जावेला मत कर मोकूं तंग भायला अनूठो  देवर-भाभी  रिश्तो घर-घर […] Read More

डाक विभाग ने 202 गाँवों को बनाया शत-प्रतिशत सुकन्या समृद्धि ग्राम

आज का दौर बेटियों का है। बेटियाँ समाज में नित नये मुकाम हासिल कर रही हैं। बेटियाँ पढेंगी तो बेटियां बढ़ेंगी, पर इसके लिए जरुरी है कि उनकी उच्च शिक्षा के लिए पर्याप्त प्रबंध किये जाएँ। ‘बेटी […] Read More