नारी एक : रूप अनेक– राहुल प्रसाद

बेटी से ही रोशन घर है

बेटी से ही ख़ुशी है घर की

बेटी से ही रौनक घर में

बेटी से ही हंसी है घर की

मदर टेरेसा बनकर बेटी

शान्तिरूप बन जाती हैं

लक्ष्मीबाई बनकर बेटी

क्रांति रूप बन जाती है

साक्षी,सिन्धु, साईना, बनकर

खेलों में नाम कमाती हैं

प्रतिभा,सुषमा,इंदिरा,बनकर

सियासी दाव आजमाती हैं,

मानसी छिल्लर बनकर बेटी

सुन्दरता का ताज सजाती हैं,

निर्मला सीता रमण बनकर

देश रक्षा का भार उठाती हैं

सुनीता विलियम बनकर बेटी

अन्तरिक्ष तक जाती हैं

और लता बनकर के बेटी

कोकिल सुर सा गाती हैं

सावित्री बनकर के बेटी

यमराज को भी झुकाती हैं

शिक्षा में भी आगे हैं

गार्गी मैत्रेयी बन सिखाती हैं

पतिव्रता के रूप में बेटी

सीता बनकर आती हैं

मार्यादा की रक्षा हेतु

द्रौपदी बन तन जाती है

उर्मिला बनकर के बेटी

वियोग की पीड़ा सहती हैं

और धर्म की रक्षा हेतु

दुःख में भी खुश रहती है

नारी को कम आंकने वाले

सच में वे सब झूठे हैं

इतिहासों में नारी के

किस्से बड़े अनूठे हैं

मीरा बनकर नारी ने

भक्तिरूप दिखलाया था

काली बनकर नारी ने ही

शक्ति रूप दिखलाया था

प्रेम में सच्चा त्याग जहाँ को

राधा बनकर दिखा दिया

त्याग की महिमा क्या होती है

यशोधरा बन सिखा दिया

प्रेम में मिटना क्या होता है

जहर पीकर दिखा दिया

आत्मसम्मान की रक्षा हेतु

जौहर कर के दिखा दिया

नारी के समझाने से ही

कालिदास विद्वान बने

तुलसी को भी राह दिखाई

जन-जन के गुण गान बने

रण भूमि में कैकयी ने

युद्ध नीति सिखलाई थी

दशरथ की रक्षा करके

नारी शक्ति दिखलाई थी

पति के मान की रक्षा हेतु

नारी सती बन जाती है

स्वयं मान की रक्षा हेतु

पद्मावती बन जाती है

जब-जब नर पर कोई

विपदा आन पड़ी है

तब-तब नर के साथ

नारी खड़ी हुई है

नारी के बिन नर का कोई

स्वाभिमान नहीं हो सकता है

नाम कमा ले कितना भी पर

सम्मान नहीं हो सकता है

नर के ऊपर नारी का ही

हाथ हमेशा रहता है

माता, बहना, पत्नी…बनकर

साथ हमेशा रहता है

कोई ऐसा क्षेत्र नहीं

जहाँ बेटियों का नाम नहीं

और जो बेटी कर ना पाए

कोई ऐसा काम नहीं

सच तो यह है बेटी से ही

गुलशन है सारा संसार

बेटी से ही हर रिश्ते में

बना हुआ रहता है प्यार

बेटी का सम्मान जहाँ पर

भागवान वहां पर रहते हैं

जहाँ मिले बेटी को खुशियाँ

इंसान वहां पर रहते हैं

जो सम्मान नहीं करते बेटी का

वो अकेले रह जाते हैं

बेटी का सम्मान करें सब

यह कसम आज हम खाते हैं  

फोन-  9429282064  8447026084

इमेल –rahul.best9222@gmail.com

Leave a Reply

%d bloggers like this: