2 अप्रैल को साहित्‍य सरोज पत्रिका का आयोजन ‘मॉं की छॉंव में’।

गाजीपुर। साहित्‍य सरोज की संस्‍थापिका स्‍व0 श्रीमती सरोज सिंह की पुण्‍य तिथि 02 अप्रैल को  जननी हरियाली दिवस के रूप में मनाया जायेगा। विश्‍व जननी हरियाली दिवस कार्यक्रम पर वृक्षा रोपण का कार्यक्रम होगा, इस कार्यक्रम का स्‍लोगन होगा, एक पौधा करें , मॉं को समर्पित । जिसके तहत एक दिवसीय कार्यक्रम ” मॉं की छॉंव में” आयोजित किया जायेगा। इस अवसर पर विभिन्‍न साहित्यिक कार्यक्रम, साझा साहित्‍य संग्रह का प्रकाशन, काव्‍य सम्‍मेलन,प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया जायेगा। साहित्‍य सरोज की संस्‍थापिका के स्‍मृति में पत्रिका द्वारा 3 कार्यक्रम भी शुरू किये जायेगें।

साहित्यिक आयोजनों में लधुकथा प्रतियोगिता, सम्‍मान समारोह, परिचर्चा एवं काव्‍य सम्‍मेलन का आयोजन होगा।  साथ ही भारत की सभ्‍यता संस्‍कृति को दिखाने एवं समझने के लिए साहित्‍य सरोज साहित्यिक यात्रा, गहमर में प्राइमरी स्तर का भारतीय वैदिक रीत पर आधारित स्‍व0 सरोज सिंह विद्या मंदिर की स्‍थापना की जायेगी। साहित्‍य सरोज को आम पाठको से जोड़ने के लिए साहित्‍य सरोज पाठक योजना की भी शुरूआत की जायेगी।  इस अवसर पर साहित्‍यकारों के नाम व परिचय पर आधारित एक साहित्‍य सरोज साहित्‍यकार डीजिटल डायरेक्‍ट्री का विमोचन भी होगा।

सम्‍मान समारोह-:

”श्रीमती सरोज सिंह शिखर सम्‍मान” महिला विकास, हिन्‍दी साहित्‍य, बाल विकास, चिकित्‍सा, पर्यावरण के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान देने वाले कुल 5 युगल दंम्‍पति को श्रीमती सरोज सिंह ………….शिखर सम्‍मान से सम्‍मानित किया जायेगा ।

”श्रीमती सरोज सिंह प्रहरी सम्‍मान” हिन्‍दी साहित्‍य, बाल विकास, चिकित्‍सा, पर्यावरण, अध्‍यापन, पत्रकारिता, नारी सुरक्षा, संगीत, सभ्‍यता एवं संस्‍कृति के बचाव, चित्रकला एवं अभियन के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए कुल 11 महिलाओं को श्रीमती सरोज सिंह …………..प्रहरी सम्‍मान से सम्‍मानित किया जायेगा।

साहित्‍य सरोज लघुकथा प्रतियोगिता।

साहित्‍य सरोज लघुकथा प्रतियोगिता काआयोजन किया गया है,जिसमें रथम विजेता को सम्‍मान पत्र, अंग वस्‍त्र के साथ 2500 रूपये नगद, द्वितीय को सम्‍मान पत्र, अंग वस्‍त्र के साथ 1500 रूपये नगद एवं तृतीय विजेता को सम्‍मान पत्र, अंग वस्‍त्र के साथ 1000 रूपये नगद प्रदान किये जायेगें। 5 श्रेष्‍ठ लधुकथा का कहानी पाठ भी कराया जायेगा, तथा उसकी फोटो वीडियो भी बनाई जायेगी। एक लेखक 3 लघुकथा भेज सकता है, जो 500 से 700 अक्षरो में होनी चाहिए। इसके साथ 10 चयनित लघुकथा का प्रकाशन साहित्‍य सरोज पत्रिका में एवं 10 चयनित लघुकथा का प्रकाशन साहित्‍यकारों की दुनिया पोर्टल पर होगा।
प्रतियोगिता का प्रवेश शुक्‍ल 700 रूपये होगा, जिसमें 500 रूपये की साहित्‍य सरोज पत्रिका की 4 साल 16 अंक की सदस्‍यता मुफ्त दी जायेगी।
कथा भेजने की अंतिम तिथि 15 फरवरी होगी और विजेता के घोषण 1 मार्च को होगी, सम्‍मान 2 अप्रैल को दिया जायेगा।

साझा साहित्‍य संग्रह साहित्‍य सरोज

इस अवसर पर मॉं के ऊपर लिखी हुई लघुकथा, गज़ल, दोहा, छंद मुक्‍त, गीत का साझा काव्‍य संग्रह प्रकाशित किया जायेगा। साझा काव्‍य संग्रह की सहयोग राशि होगी 1500 रूपये। एक लेखक/रचनाकार अपनी तीन लधुकथा या काव्‍य रचनाएं ही भेज सकता है। रचना भेजने की अंतिम तिथि 25 फरवरी होगी।

रचना भेजने के लिए पता है प्रकाशक साहित्‍य सरोज, गहमर, गाजीपुर,232327

मेल sahityakaronkiduniya@gmail.com

काव्‍य सम्‍मेलन रात को 8 बजे से जिसमें नवाकुंरों एवं महिला कवयित्रीयों का काव्‍य पाठ होगा।

 

 

 

3 thoughts on “2 अप्रैल को साहित्‍य सरोज पत्रिका का आयोजन ‘मॉं की छॉंव में’।”

  1. गुलाब चंद पटेल कहते हैं:

    ये जो लिखा है कि 1500 Rs. काव्य संग्रह के लिए रखा गया है वो मेरे मत में कवि लेखक के रूप में ज्यादा कठिन हो जाता है, इस मे आमदानी तो हे नहीं और मुनाफा कमाने के लिए राशि जमा करना केसे संभव है, लेकिन आप को जो अच्छा लगा वो ठीक है, बधाई

  2. रीता जयहिंद अरोड़ा कहते हैं:

    अच्छा विचार है मैं भी प्रतिभागी बनकर शामिल रहूँगी
    श्रीमती सरोज सिंह प्रहरी सम्मान व लघुकथा प्रतियोगिता में भाग लूँगी । धन्यवाद । सफल आयोजन के लिए अग्रिम शुभकामनाएँ

  3. डॉ संध्या मोहिते कहते हैं:

    सराहनीय कार्य ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: